मुश्किल है अपना मेल प्रिये, यह प्यार नहीं है खेल प्रिये |



मुश्किल है अपना मेल प्रिये,
यह प्यार नहीं है खेल प्रिये | 

तुम संबित पात्रा की फॉलोवर हो,
मैं कन्हैया का अदना-सा फैन प्रिये | 
मुश्किल है अपना प्रेम प्रिये,
ये प्यार नहीं है खेल प्रिये | १ | 

तुम पतंजलि दन्त कान्ति सी,
मैं कोयले की राख प्रिये |
मुश्किल है अपना मेल प्रिये,
यह प्यार नहीं है खेल प्रिये | २ | 

तुम मनमोहक मोरनी की जैसी,
मैं काला कुरूप करैत प्रिये | 
मुश्किल है अपना मेल प्रिये,
यह प्यार नहीं है खेल प्रिये | ३ | 

तू मनुस्मृति की प्यासी हो ,
मैं अन्निहिलेशन ऑफ़ कास्ट की व्यथा प्रिये | 
मुश्किल है अपना मेल प्रिये,
यह प्यार नहीं है खेल प्रिये | ४ | 

Opportunity Waits for None

तुम हल्दीराम की मिठाई हो,
मैं ठेले का चाट प्रिये | 
मुश्किल है अपना मेल प्रिये,
यह प्यार नहीं है खेल प्रिये | ५ | 

तुम पिज़्ज़ा और बर्गर हो,
मैं दाल भात और चोखा प्रिये | 
मुश्किल है अपना मेल प्रिये,
यह प्यार नहीं है खेल प्रिये | ६ | 

तुम सच्चे प्रेम की शान हो ,
मैं झूठ का अम्बार प्रिये | 
मुश्किल है अपना मेल प्रिये,
यह प्यार नहीं है खेल प्रिये | ७ | 

मैं दीप हूँ करूँ रौशन जग को,
तुम पटाखे का शोर प्रिये| 
मुश्किल है अपना मेल प्रिये,
यह प्यार नहीं है खेल प्रिये | ८ | 


यह कविता डॉ. सुनील जोगी जी की बहुचर्चित कविता ये प्यार नहीं है खेल प्रिये से प्रेरित है| मजाक मजाक में तुकबंदी करके यह कविता तैयार हो गयी है जिसमे  रितेश कुमार (Weather वाणी ) और सुधांशु कुमार (sidWanshu) का योगदान है|   इन सभी छंदो को पूरा करने में कोई न कोई प्रेरणाश्रोत रहा है उन सभी लोगो को आभार |  ये सभी छंदो को YourQuote App पर प्रकशित किया गया है और पाठकों और श्रोताओं द्वारा सराहा गया है 



Comments

Popular posts from this blog

Quick Tips to Avoid Dehydration and Heatstroke this Summer

Energy Conservation

आहार, निद्रा और ब्रह्मचर्य का दैनिक जीवन में उपयोग